सब्र Suivre un blog

A
Azraa
प्यार कितना मजबूर होता है
Histoire non vérifiée

#]
AA Partager

प्यार

"मेरे सब्र और तड़प से गर मेरा प्यार साबित होता है तो यकीन मानो अब तुमसे प्यार की भीख नहीं मांगूंगी "

इश्क, मोहब्बत,प्यार बहुत अजीब है न जब तक नहीं होता इंसान सोचता है कि क्यों नहीं , मुझसेकोई मोहब्बत क्यू नही करता और जब किसी से मोहब्बत हो जाती है तो उसे अपने पास नही रख पाता ।

दुनिया में बहुत सी कहानियां सुनी और पढ़ी है और हर बार यही लगता था की ऐसा थोड़े ही होता है ,ऐसा तो सिर्फ किस्से कहानियों में होता है लेकिन दोस्तो जब खुद उस प्यार से गुजरी ,उसकी गहराई में डूबी तब पता चला की ऐसा होता है ।

कितना अजीब है न जब प्यार होता है पता ही नही चलता ,कहते है प्यार दबे पांव आता है उसकी आहट नही होती लेकिन जब जाता है तो सारी दुनिया .......


"उनकी ख्वाहिश थी हमें आजमाने की

और बस हमने अपनी आखरी सांस भी उनके नाम कर दी "


अजरा🍁





15 Avril 2022 04:15:38 0 Rapport Incorporer 0
~